बिहार में पाकिस्तान मत बनाओ वरना खुद जाओ पाकिस्तान – बीजेपी

बिहार में पाकिस्तान मत बनाओ वरना खुद जाओ पाकिस्तान. आए दिन राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर निशाना साधते रहती है या फिर ये कहे एक दूसरे को नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ती है. अब एक बार फिर से मिडिया रिपोर्ट्स अनुसार बीजेपी ने नीतीश कुमार पर पलटवार करते हुए कहा कि बिहार में पाकिस्तान मत बनाओ…

बीते दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा केंद्र सरकार पर ये आरोप लगाया गया था कि केंद्र सरकार पिछड़े राज्यों की कोई मदद नहीं कर रही है. केंद्र पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने दावा किया कि वे ‘प्रचार प्रसार’ के अलावा गरीब राज्यों के लिए बहुत कम काम कर रहे हैं. आगे सीएम ने अफसोस जताते हुए था कि अगर उनकी मांगें मान ली जातीं तो राज्य का तेजी से विकास होता….

उन्होंने दावा किया कि बिहार को विशेष दर्जा देने की लंबे समय से चली आ रही मांग को भी स्वीकार नहीं किया गया, जो सभी गरीब राज्यों को मिलनी चाहिए और यह पहली बार नहीं है जब बिहार के सबसे लंबे समय तक रहने वाले मुख्यमंत्री ने इस साल के अगस्त में एनडीए गठबंधन से बाहर आने के बाद मांग उठाई थी….

सितंबर में भी उनकी पार्टी ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं देने के लिए केंद्र में बैठी सरकार पर हमला किया था. वहीं दूसरी तरफ सीएम के द्वारा लगाए गए इस आरोप पर पलटवार करते हुए बीजेपी ने सीएम पर ‘बिहार में पाकिस्तान बनाने’ का आरोप लगाया है..

केंद्र ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के स्कूलों में उर्दू को बहाल करने के इरादे से निशाना साधा, जैसा कि हम सभी जानते हैं बिहार में बीजेपी से जदयू के अलग होने के बाद भाजपा की राज्य इकाई, नीतीश कुमार के द्वारा पार्टी से अलग होने के से काफी खफा है और अब सीएम पर ‘बिहार में पाकिस्तान बनाने’ का आरोप लगाया है….

आपको बता दें सीएम नीतीश कुमार की मंशा हर स्कूल में उर्दू शिक्षकों को बहाल करने की है. ख़बरों अनुसार बिहार विधानसभा में उर्दू जानने वालों को नियुक्त करने की आवश्यकता है तथा अब हर थाने में उर्दू अनुवादकों की नियुक्ति की जाएगी. जिसपर बीजेपी का ये आरोप है कि “बिहार के मुस्लिम बहुल जिलों में दलितों, ओबीसी और ईबीसी का जीवन बर्बाद हो जाता है…

इसके साथ ही ये भी कहा कि भाई, बिहार में पाकिस्तान मत बनाओ, खुद पाकिस्तान जाओ. वहीं नीतीश कुमार 2024 के लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी का मुकाबला करने के लिए एकजुट विपक्ष की भी खूब वकालत कर रहे हैं. उन्होंने यह भी घोषणा की है कि यदि विपक्षी दल केंद्र में अगली सरकार बनाने में सफल होते हैं तो बिहार ही नहीं बल्कि बिहार सहित सभी पिछड़े राज्यों को विशेष दर्जा मिलेगा…

यह भी पढ़ें:- गुजरात में कांग्रेस के कौन से वादे है जिससे बीजेपी का निकल रहा है दम……

Leave a Reply