सनसनीखेज खुलासा : लड़कियों की सप्लाई नीतीश सरकार के मंत्रियों तक

बिहार में रिमांड होम का मामला एक बार फिर से गर्मा गया है. मामला राजधानी पटना के गायघाट रिमांड होम से जुड़ा हुआ है. विगत दिनों गायघाट रिमांड होम की लड़कियों ने मीडिया के सामने आकर रिमांड होम संचालक पर कई तरह के गंभीर आरोप लगाये थे.

अब बिहार के पूर्व वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस बाबत का एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने सरकार पर कई तरह के गंभीर आरोप लगाए हैं. पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास ने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा है कि बिहार के रिमांड होम से बिहार सरकार के मंत्रियों को लड़कियों की सप्लाई की जाती है.

अभी अभी : कांग्रेस के समर्थन में बसपा उम्मीदवार ने नामांकन वापस लिया

पूर्व आईपीएस ने कहा कि चूंकि रिमांड होम की लड़कियों की सप्लाई बिहार सरकार के मंत्रियों तक होती है, इसलिए सरकार इस मामले को रफा दफा करने में जुट गई है. अमिताभ कुमार दास ने कहा कि समाज कल्याण विभाग ने जैसे तैसे मामले की जांच की और रिपोर्ट जारी कर दिया.

बिहार पुलिस में वरिष्ठ अधिकारी रहें अमिताभ कुमार दास ने जो पत्र लिखा है उसमें वो सीधे बिहार की नीतीश कुमार की सरकार की संलिप्तता का आरोप लगाते हुए राज्यपाल से दखल देने और सीबीआई जांच की मांग की है. अमिताभ ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड मामले का जिक्र करते हुए कहा कि किस तरह से उस समय की समाज कल्याण मंत्री मंजू सिन्हा को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ गया था.

घर पर बनाएं तंदूरी चिकेन, होटल से भी स्वादिष्ट, फटाफट हो जाएगा तैयार….

बता दें कि गायघाट बालिका गृह मामले का पटना हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लिया है. कोर्ट ने बिहार के समाज कल्याण विभाग और पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाते हुए जवाब तलब किया है. कोर्ट ने पूछा है कि अब तक पीड़त लड़की के बयान पर कोई एफआईआर दर्ज क्यों नहीं किया गया…

गायघाट के महिला रिमांड होम से फरार एक युवती ने कहा था कि इस रिमांड होम में गंदा काम होता है. रिमांड होम की खूबसूरत लड़कियां अधीक्षक वंदना गुप्ता की प्यारी होती हैं.

यह भी पढ़ें : BJP ने JDU को बताई उसकी औकात, नीतीश को जरा भी भाव देने के मूड में नहीं मोदी और शाह

 

Leave a Reply