बसंत पंचमी के दिन भूलकर भी न करें ये काम।

जैसा कि हम सभी जानते हैं,विद्या की देवी कहे जाने वाली मां सरस्वती की पूजा बसंत पंचमी के दिन काफी हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। बसंत पंचमी के दिन हम सभी काफी धूमधाम के साथ मां सरस्वती की पूजा-अर्चना करते हैं।

प्रत्येक वर्ष माघ महीने की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी के त्योहार के रूप में मनाया जाता है।
धार्मिक कथाओं के अनुसार बसंत पंचमी के दिन ही ब्रह्मा जी द्वारा मां सरस्वती की उत्पत्ति की गई थी और यही वजह है कि बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा-अर्चना पूरे विधि-विधान के साथ किया जाता है। इस वर्ष बसंत पंचमी 5 फरवरी दिन शनिवार को है।ज्ञान की देवी कहे जाने वाली मां सरस्वती की पूजा करने से ज्ञान की प्राप्ति तो होती ही है तथा साथ ही सभी प्रकार की मनोकामनाएं भी पूर्ण होती है। बसंत पंचमी के दिन ही बसंत ऋतु का आगमन भी होता है।

परंतु ऐसे बहुत से कार्य हैं जिन्हें भूलकर भी बसंत पंचमी के दिन नहीं करना चाहिए अन्यथा इससे देवी सरस्वती काफी क्रोधित होती हैं। तो आइए जानते हैं, वह कौन-कौन से काम है, जिन्हें भूलकर भी बसंत पंचमी के दिन नहीं करना चाहिए।
बसंत पंचमी के दिन क्या भूलकर भी नहीं करना चाहिए :

1.बसंत पंचमी के दिन बिना स्नान आदि किए तथा मां सरस्वती की पूजा-अर्चना किए बगैर भोजन के सेवन करने से बचें। कोशिश करें कि मां सरस्वती की पूजा के पश्चात ही भोजन ग्रहण करें।
2.बसंत पंचमी के दिन ज्यादातर पीले रंग के ही कपड़े पहने क्योंकि मां सरस्वती को पीला रंग अत्यधिक प्रिय है। इस दिन अन्य रंग के कपड़े पहनने से परहेज करें,खासकर काले रंग के कपड़े बिल्कुल भी नहीं पहने,वरना ऐसा करने से मां सरस्वती काफी नाराज होती है।
3.बसंत पंचमी के दिन भूल कर भी मांसाहारी भोजन नहीं करना चाहिए तथा मदिरा का सेवन से भी परहेज करें। इस दिन ध्यान रहे कि केवल ब्रह्मचर्य का ही पालन हो और खास करके शिक्षा से जुड़ी कोई भी चीज़ का अनादर ना हो।
4.इस दिन ध्यान रहे कि आप भूल कर भी क्रोध ना करें तथा आपके द्वारा किसी का भी अपमान ना हो। अपशब्दों के उपयोग से खास तौर पर परहेज रखें।
5.बसंत पंचमी के दिन ध्यान रखें कि घर में किसी प्रकार के क्लेश या फिर लड़ाई-झगड़े ना हो क्योंकि ऐसा करने से मां सरस्वती काफी नाराज होती है और इसके परिणाम काफी विपरीत भी हो सकते हैं।
6.इस दिन दूसरों की बुराई करने से भी बचें तथा अच्छे विचार रखें अपने लिए भी तथा औरों के लिए भी।

यह भी पढ़ें : देवोत्थान एकादशी के दिन करें ये उपाय,आपके घर में धन दौलत की हो जाएगी बरसात।

Leave a Reply