अंधभक्तों की टोली ‘ पठान ‘ के पीछे क्यों पड़ी है, जानकर खूब हंसी आएगी …

अंधभक्तों की टोली पठान फिल्म के पीछे क्यों पड़ी है, जानकर खूब हंसी आएगी आपको… पर वजह जाननी जरुरी भी है क्योंकि मामला बड़ा दिलचस्प है…..

2014 से देश में एक नए किस्म के प्राणियां ने जन्म लिया है या यूं कहें कि अवतार लिया है…. जो सुनते कम है, सोचते शून्य हैं.. और प्रतिक्रिया चारगुनी देते हैं। इन प्राणियों को प्यार से अंधभक्त कहा जाता है…. वैसे इन प्राणियों की जो हरकतें होती हैं इनके लिए और भी कई शब्द अलंकार प्रयोग किए जा सकते हैं लेकिन अमिश देवगन जी कहते हैं न कि थोड़ी तो मर्यादा रखिए.. वैसे हम मर्यादा के हिसाब से ही उन्हें अंधभक्त कहते हैं…..

से-क्स के दौरान Kiss क्यों किया जाता है ? Kiss करने के क्या फायदे हैं ?

इन अंधभक्तों की सबसे बड़ी व्यथा होती है कि इनके गुरुजी इनको लगातार टास्क देते रहते हैं, इन्हें कभी निठल्ला रहने नहीं देते…. आजकल इनके जिम्मे शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण और जॉन अब्राहम की फिल्म पठान को बायकॉट करने का काम दिया गया है। बीफ, लव जिहाद, पाकिस्तान, कब्रिस्तान वाले मुद्दे अभी साइड में रखे गए हैं। फिलहाल अंधभक्त मंडली पठान को फ्लॉप कराने के अभियान में लगे हुए हैं।

पर इन अंधभक्तों की अजब प्रेम की गजब कहानी है। जब इनसे पूछा जा रहा है कि भाई आखिर क्या परेशानी है फिल्म पठान की… तो कहते हैं कि इस फिल्म में हमारे सनातन धर्म का अपमान किया गया है। इसमें हिरोइन दीपिका पादुकोण ने भगवा रंग की बिकनी पहनी है। अब भई, रंग भी धर्म और मजहब में बंट गया ! रंग तो रंग है खैर इन अंधभक्तों की आगे की कहानी भी आपको सुनाते हैं!

 

इनसे पूछा जाता है कि सिर्फ दीपिका ने अकेले भगवा थोड़े ही पहना है, पहले भी कई कलाकार भगवा ड्रेस पहन चुके हैं। मनोज तिवारी भगवा कपड़े में बेबी बियर पीके छौंके लगली छम्मा छम्मा छम कर चुके हैं ! रवि किशन अपना जलवा दिखा चुके हैं…. और ये सब तो अंधभक्त सेवा समिति के चेयरमैन हैं यानी की भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं तो बेचारे इन मूरखों में सन्नाटा छा जा रहा है और बेचारे इधर उधर बंगले तांकने झांकने लग रहे हैं! अब ये बेचारे बोले तो बोले क्या और करें तो करे क्या !

उधर पठान का ट्रेलर बुर्ज खलीफा पर दिखाया जा रहा है ! सोशल मीडिया के हर प्लेटफॉर्म पर पठान ही पठान दिख रहा है ! यूट्यूब, फेसबुक हो, इंस्टाग्राम हो… पठान के गाने, पठान के ट्रेलर, पठान के डायलॉग ही दिख रहे हैं। उधर शाहरुख खान के फैन्स क्लब ने देश भर में 200 से ज्यादा जगहों पर पठान की रिलीजिंग को सेलिब्रेट करने की तैयारी कर रखी है…. ऐसे में इन जाहिल अंधभक्तों को हार्ट अटैक आ जाए तो जिम्मेदारी किसकी होगी….. ठीक है कि मान लिया है कि ये सभी निकम्मे हैं, निठल्ले हैं, किसी काम के नहीं हैं लेकिन भाई हर इंसान की जान की कीमत है….

मेरे मुहल्ले का एक ऐसा ही आवारा अंधभक्त था जो दिन रात फेसबुक, व्हाटसएप पर बॉयकॉट पठान के काम में लगा हुआ था, पठान फिल्म के विरोध के हर मैसेज को कम से कम 100 लोगों को हर ग्रुप में फॉरवर्ड करता था…उससे मैंने पूछा कि भई, क्यूं विरोध कर रहा पठान का… क्या प्रॉब्लम है तुझे… उसने बोला… भैया क्या बोलूं… कोई काम नहीं है, बेरोजगार हूं…. दूसरों से मांग मांग कर 5 रुपये वाला गुटखा खा कर टाइम पास कर रहा हूं… अब पैसे नहीं है तो 250 की टिकट कहां से खरीद पाउंगा… इसलिए पठान के बॉयकॉट के काम में लग गया हूं….

वैसे आपके पास भी ढेर सारे अंधभक्त होंगे तो उन्हें लिंक जरुर शेयर और फॉरवर्ड किजिएगा…. ताकी उन्हें भी लगे की कोई है तो जो उनके बॉयकॉट वाले काम को गंभीरता से ले रहा है…. बाकी 25 जनवरी को पठान रिलीज हो रही है…. मन करे तो देखिए… ना मन हो तो मत देखिए…

Leave a Reply