मानसून मे ऐसे करे Skin का देखभाल, इंफेक्शन से भी रह सकते हैं दूर…

Desk: मानसून आ गया है और काफी लोगों को बारिश में भीगना भी बहुत पसंद है. लेकिन इसके साथ-साथ उनको अपने स्किन का ध्यान भी रखना चाहिए क्योंकि बारिश के मौसम में इंफेक्शन का खतरा हमेशा बना रहता है. मानसून के दौरान आर्द्रता बढ़ने से स्किन की समस्याएं बढ़ने लगती हैं. खासकर ऑयली या मिश्रित स्किन वाले लोगों के लिए स्किन प्रोब्लम्स की लिस्ट लंबी होती है.

अगर आपकी स्किन पहले से ही ऑयली है तो हाई ह्यूमिडिटी लेवल आपकी त्वचा को अत्यधिक सुस्त बना सकता है. इसके अलावा, यह बार-बार मुंहासे के टूटने का कारण बन सकता है. इसलिए जरूरी है कि मौसम के हिसाब से अपनी स्किन केयर रुटीन में बदलाव किया जाए. चलिए हम यहां आपको मानसून स्किन केयर के लिए कुछ टिप्स देते है.

बता दे त्वचा के छिद्रों को बंद करने और मृत त्वचा कोशिकाओं से छुटकारा पाने के लिए, आपको अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट करना होगा. आप ऐसा करने के लिए कॉफी, पपीता, दही, टी बैग, बेकिंग सोडा आदि जैसे हल्के अपघर्षक रसोई सामग्री का उपयोग कर सकते हैं और नई त्वचा कोशिकाओं के विकास को प्रोत्साहित कर सकते हैं.

मानसून के दौरान क्लीनिंग बहुत जरूरी है. अगर संभव हो, तो मानसून के मौसम में इसे दिन में कम से कम तीन बार करें ताकि अतिरिक्त गंदगी जमा होने और फंगल संक्रमण से बचा जा सके. अपनी त्वचा को साफ करने और उसके रोमछिद्रों को खोलने के लिए आप गुलाब जल, नींबू, एलोवेरा, सेब के सिरके आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं.

साथ ही आपकी त्वचा के छिद्रों को खुला छोड़ने से उनमें फिर से धूल जमा हो सकती है जिसके परिणामस्वरूप मुंहासे निकल सकते हैं. इसलिए टोनिंग जरूरी है. बचे हुए गंदगी को हटाने और त्वचा के छिद्रों को बंद करने के लिए नींबू का रस, खीरे का पानी और ग्रीन टी जैसे प्राकृतिक टोनर का उपयोग किया जा सकता है.

 यह भी पढ़े :- झड़ते बालों की समस्या से यदि है परेशान तो अपनाएं यह शैंपू

साथ ही अपने अपने शरीर को हाइड्रेट करें और मेकअप से बचें. ढेर सारा पानी पीने से शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और पिंपल्स और मुंहासों से बचा जा सकता है. वहीं, मॉनसून के दौरान मेकअप लगाने से आपकी त्वचा के रोमछिद्र बंद हो सकते हैं. अगर आपको मेकअप पहनना है, तो सुनिश्चित करें कि आप बिस्तर पर जाने से पहले इसे हटा दें.

मानसून के दौरान चेहरे के अलावा पैरों और हाथों में सबसे ज्यादा इंफेक्शन होने का खतरा रहता है। इसलिए कोशिश करें कि बारिश में न ही भीगें. अगर भीग भी जाएं तो फिर एक हल्का गुनगुना पानी कर उसमें नींबू का रस मिलाएं. इसके बाद उस पानी में पैर डालें। उसी गुनगुने पानी से ही बाजुओं और हाथों को धोएं। इसके बाद पैरों को प्यूमिक स्टोन से साफ करके धोएं और फिर मॉइश्चराइजर लगा लें.

यह भी पढ़े :- Credit card के महत्वपूर्ण फायदे, जिसमें डिस्‍काउंट्स के साथ मिलते हैं कई एक्‍स्‍ट्रा बेनेफिट्स.. 

 

हमारे YouTube Channel को Subscribe करे

 

Leave a Reply