कांग्रेस पार्टी कि फिर से बढ़ी मुश्किलें एक साथ 26 नेता हुए भाजपा में शामिल…

कांग्रेस पार्टी कि फिर से बढ़ी मुश्किलें एक साथ 26 नेता हुए भाजपा में शामिल. अपनी पार्टी का दामन छोड़ बीजेपी में शामिल हुए हार्दिक और अल्पेश को मिल सकता है बीजेपी से टिकट तो वहीं कांग्रेस पार्टी कि फिर से बढ़ी मुश्किले. खबरों के अनुसार ये कहा जा रहा है कि कांग्रेस से बगावत करने वाले हार्दिक पटेल और अल्पेश को दे सकती है भारतीय जनता पार्टी टिकट…..

तो वहीं हिमाचल प्रदेश चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, 26 नेता कांग्रेस पार्टी छोड़ हुए बीजेपी में शामिल. पाटीदार आंदोलन से कभी गुजरात की राजनीति में भूचाल ला देने वाले हार्दिक पटेल आने वाले चुनाव में अपने चुनावी सफर की शुरुआत कर सकते हैं. जी हां कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रह चुके हार्दिक पटेल को भाजपा टिकट दे सकती है…….

उन्हें विरामगाम सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है. वहीं ओबीसी आरक्षण के लिए आंदोलन चलाने वाले अल्पेश ठाकोर को भी बीजेपी उम्मीदवार बना सकती है. हार्दिक पटेल की तरह अल्पेश भी कांग्रेस में छोटी सी पारी खेल चुके हैं. कांग्रेस को छोड़कर भाजपा में शामिल हुए ऐसे नेताओं की लिस्ट लंबी होती जा रही है जो भगवा दल से टिकट की चाह रखते हैं……

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, 2017 विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस का दामन छोड़कर भाजपा में आए 35 से अधिक नेता टिकट के लिए दबाव बना रहे हैं. कुंवरजी बावालिया पांच बार के विधायक और लोकसभा सांसद हैं. सोमाभाई कोली पटेल सुरेंद्रनगर से लोकसभा सांसद रहे हैं और लिंबडी सीट से एक से अधिक बार विधायक रह चुके हैं. ब्रृजेश मेरजा मोरबी में पुल हादसे के बावजूद मजबूत उम्मीदवार हैं. ये सभी नेता कभी कांग्रेस के बड़े चेहरे रह चुके हैं…….

वहीं भाजपा सूत्रों की मानें तो पार्टी कांग्रेस छोड़कर आए कई नेताओं को इस बार टिकट दे सकती है. हालांकि ऐसा करते हुए अपने पुराने नेताओं को साधना बेहद चुनौतीपूर्ण हो सकता है. हिमाचल प्रदेश में पार्टी के कई बागी नेता सिरदर्द बन चुके हैं. भाजपा की कोशिश होगी कि इस तरह की नौबत गुजरात में ना आए. वहीं दूसरी ओर पार्टी बड़ी संख्या में पुराने विधायकों का टिकट भी काट सकती है……

गुजरात में 1 और 5 दिसंबर को मतदान होना है. भाजपा और कांग्रेस के बीच मुख्य मुकाबला को देखते हुए प्रदेश में इस बार आम आदमी पार्टी भी पूरी मेहनत कर रही है. त्रिकोणीय टक्कर वाले चुनाव का परिणाम 8 दिसंबर को घोषित किया जाएगा. 182 सदस्यीय वाली विधानसभा में भाजपा का लगातार 27 साल से कब्जा है. हाल में आए कई सर्वे ने एक बार फिर राज्य में भाजपा की सरकार बनने की भविष्यवाणी की है…..

वहीं हिमाचल में होने वाले चुनाव से पहले कांग्रेस को एक बार फिर लगा बड़ा झटका, पार्टी के एक साथ 26 नेता हुए भाजपा में शामिल. हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस पार्टी की बढ़ी मुश्किलें. मतदान से महज चार दिन पहले प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व महासचिव धर्मपाल ठाकुर खंड समेत कांग्रेस के 26 नेता सोमवार को सत्ताधारी भाजपा में शामिल हो गए………

पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं। हिमाचल में केवल एक चरण में वोटिंग होगी। इसके लिए 12 नवंबर को वोट डाले जाएंगे और 8 दिसंबर को मतगणना होगी. वहीं आपको बता दें कि 2004 से आम चुनाव से लेकर विधानसभा चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज होने के साथ करोड़ों की संपत्ति भी है…………

हैरानी की बात है ये है कि इसमें भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टी के सांसद और विधायक भी शामिल हैं. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स  ने सोमवार को जारी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 2004 से अब तक लोकसभा या विधानसभा चुनाव लड़ने वाले 6,043 उम्मीदवारों में से लगभग 972 ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं और वहीं चौंकाने वाली बात है कि 511 उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले भी दर्ज किए गए हैं….

 

यह भी पढ़ें:- बिहार में पाकिस्तान मत बनाओ वरना खुद जाओ पाकिस्तान – बीजेपी

Leave a Reply