कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताया रावण……….

कांग्रेस अध्यक्ष मलिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताया रावण. बोले विधायक, सांसद, तथा निगम चुनाव में आपकी सूरत देखी; क्या आपके भी रावण की तरह 100 मुख हैं. इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा, कि हम अछूत हैं, तुम्हारी चाय कोई तो पीता है; मेरी तो चाय भी नहीं पीता कोई……

आपको बता दें कि गुजरात चुनाव के लिए जारी प्रचार में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उपर बयान दिया है. अहमदाबाद में बीते दिन जनसभा को संबोधित करने के दौरान खड़गे ने कहा कि क्या रावण की तरह मोदी के 100 मुख हैं?मुझे समझ नहीं आता……

तो वहीं बिते दिन सूरत में जनसभा के दौरान खड़गे ने खुद को अछूत तथा प्रधानमंत्री मोदी को झूठों का सरदार बताया था. बेहराम पुरा में जनसभा के दौरान खड़गे ने कहा- प्रधानमंत्री बोलते हैं, कि कहीं और मत देखो मोदी को देखकर वोट दो……

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कितनी बार तुम्हारी सूरत देखें, हमने कॉरपोरेशन चुनाव में तुम्हारी सूरत देखी एमएलए चुनाव तथा एमपी इलेक्शन में भी सूरत देखी, हर जगह पर, क्या रावण की तरह आपके भी 100 मुख हैं, मुझे समझ नहीं आता…..

वहीं दूसरी ओर मलिक्कार्जुन खड़गे के इस बयान के बाद भाजपा ने भी किया पलटवार और कहां चुनाव का दबाव नहीं सह पा रहे खड़गे. भाजपा IT सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कहा कि खड़गे गुजरात विधानसभा चुनाव का प्रेशर नहीं सह पा रहे हैं…….

तो वहीं प्रवक्ता शाहजाद पूनावाला ने कहा, कि कांग्रेस ने वही किया, जिसमें वो पारंगत है. फिर वह एक व्यक्ति को गाली दे रही है. कांग्रेस ने फिलहाल प्रधानमंत्री के पद का असम्मान करना भी शुरू कर दिया है. आगे उन्होंने कहा खड़गे का बयान कोई संयोग नहीं है….

यह वोट बैंक के लिए है, वो स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं, कि एक चायवाला प्रधानमंत्री कैसे बन गया है. आपको बता दें कि इससे पहले मल्लिकार्जुन ने मोदी पर निशाना साधते हुए सूरत में कहा था, हम अछूत है क्योंकि तुम्हारी चाय कम से कम कोई पीता तो है……..

खड़गे बोले, आपके जैसा आदमी, जो हमेशा क्लेम करते हैं, मैं गरीब हूं, अरे भाई हम भी गरीब हैं, हम तो गरीब से भी गरीब हैं. हम तो अछूतों में आते हैं, कम से कम तुम्हारी चाय कोई तो पीता है, मेरी तो चाय भी नहीं पीता कोई…..

और फिर आप बोलते हैं, मैं गरीब हूं, मेरे को किसी ने गालियां दीं, मेरी तो हैसियत क्या है. हालांकि, इसके पहले बीते दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेलंगाना में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था, कि उन्हें रोजाना 2 से 3 किलो गाली मिलती हैं.

लेकिन उनका शरीर उन गालियों को पोषण में बदल देता है. उन्होंने कहा कि लोग मुझे पूछते हैं, कि मोदी जी आप थकते नहीं है क्या, तो मैं उनसे कहता हूं कि भगवान ने मेरे शरीर में कुछ ऐसा मैकेनिज्म बनाया है, कि गालियां प्रोसेस होकर न्यूट्रिशन बन जाती हैं……

यह भी पढ़ें:- राहुल गांधी ने कहा मेरी छवि खराब करने के लिए बीजेपी ने खर्च किए करोड़ों रुपये………

Leave a Reply