कांग्रेस ने राज्यसभा के लिए जारी की अपने 10 उम्मीदवारों की सूची ।

कांग्रेस मतलब झगड़ा,झमेला और झंझट… कांग्रेस खत्म होने की कगार पर है लेकिन इन कांग्रेसियों का झगड़ा खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. राज्यसभा की सीटों को लेकर जिस तरह से कांग्रेसियों की मारकाट नजर आ रही है, वह बची खुची हुई कांग्रेस का अंतिम संस्कार करने के लिए काफी है.

एक अनार है, सौ बीमार है. सभी कांग्रेसियों को राज्यसभा में जाना है. सुनिए किस तरह से कांग्रेस में राज्यसभा को लेकर बवाल जारी है।कांग्रेस ने रविवार राज्यसभा के लिए अपने 10 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी।

जिसके बाद से कांग्रेस पार्टी के लोग एक दूसरे पर निशाना साधना शुरू कर दिये। जारी किए गए उम्मीदवारों के लिस्ट में कुछ ऐसे नाम हैं,जिनकी चर्चा बहुत ज्यादा नहीं थी, वहीं कुछ नाम ऐसे भी थे जिन्हें मौका नहीं मिला और उनका दर्द साफ़तौर पर छलक आया।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने तकरीबन रात 11 बजे ट्वीट करते हुए लिखा कि शायद मेरी तपस्या में कुछ कमी रह गई।10 नामों की जो सूची जारी की गई है उसमें छत्तीसगढ़ से राजीव शुक्ला और रंजीत रंजन ,हरियाणा से अजय माकन, कर्नाटक से जयराम रमेश, मध्य प्रदेश से विवेक तन्खा, महाराष्ट्र से इमरान प्रतापगढ़ी,राजस्थान से रणदीप सुरजेवाला, मुकुल वासनिक, प्रमोद तिवारी का नाम है। वहीं तमिलनाडु से पी चिदंबरम का नाम शामिल है।

कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता पवन खेड़ा ने अपने ट्वीट में सिर्फ इतना ही लिखा है कि शायद मेरी तपस्या में कुछ कमी रह गई। लेकिन समझने वाले साफ-साफ समझ सकते हैं कि उनका इशारा किस ओर है। कांग्रेस राज्यसभा उम्मीदवारों की सूची जारी होने के बाद देर रात किए गए इस ट्वीट के आखिर क्या मायने हैं।

वहीं उनके ट्वीट पर अभिनेत्री व कांग्रेस नेता नगमा ने लिखा है कि हमारी भी 18 साल की तपस्या कम पड़ गई इमरान भाई के आगे। सोशल मीडिया पर पवन खेड़ा के इस ट्वीट पर लोग अपने अलग- अलग प्रतिक्रिया देने शुरू कर दिए हैं। कुछ लोग पक्ष लेते नजर आ रहे, तो वहीं कुछ लोग इसका विरोध कर रहे हैं।

एक यूजर ने लिखा है,कि आपकी तपस्या हर किसी को दिख रही है…हां पर आपको चापलूसी नहीं आती…जो निकलता है दिल से निकलता है। आप कांग्रेस हैं।

संजय अहिरवाल ने लिखा है कि अब खेल कुछ और चल रहा है। तपस्या से कुछ हासिल नहीं होता। शीर्ष नेतृत्व की अपनी कुर्सी खतरे में है। पूरी पार्टी हाशिये पर खड़ी है। एक यूजर ने परेश रावल के ट्वीट को याद दिलाते हुए लिखा कि 9 बार हाथ जोड़ना होगा।

आपको बता दें कि देश के 15 राज्यों से राज्यसभा की 57 सीटों के लिए चुनाव 10 जून को होंगे। नामांकन भरने की अंतिम तारीख 31 मई है। कांग्रेस ने रविवार राज्यसभा के लिए अपने 10 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी। इस सूची के आने के बाद पार्टी के कुछ नेता काफी नाराज चल रहे हैं।



Leave a Reply