कैप्टन अमरिंदर की पाकिस्तानी गर्लफ्रेंड की जांच करेगी पंजाब सरकार

अब पंजाब में कांग्रेस की सरकार और पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच ऐलान ए जंग हो चुका है. कैप्टन अमरिंदर की पाकिस्तानी महिला मित्र अरुसा आलम के खिलाफ पंजाब सरकार ने जांच का ऐलान कर दिया है.

राज्य के उपमुख्यमंत्री और गृह मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने बताया है कि अरुसा आलम के आईएसआई कनेक्शन की अब जांच की जाएगी. इसके लिए डीजीपी इकबाल प्रीत सिंह सहोता को आवश्यक निर्देश दे दिए गए हैं. डिप्टी सीएम रंधावा ने बताया कि अरुसा आलम को लेकर कई बातें सामने आईं हैं. देश की सुरक्षा को देखते हुए इनकी जांच बेहद आवश्यक है.

डिप्टी सीएम रंधावा ने कहा कि साढ़े चार साल तक कैप्टन अमरिंदर पंजाब के सीएम थें. तब तक सब कुछ अच्छा था लेकिन जैसे ही मुख्यमंत्री की कुर्सी से बेदखल हुए तब पंजाब को पाकिस्तान से खतरा महसूस खतरे होने लगा. डिप्टी सीएम ने कहा कि पंजाब को आईएसआई से तब खतरा क्यों नहीं हुआ जब पाकिस्तानी पत्रकार अरुसा आलम कैप्टन अमरिंदर सिंह के चंडीगढ़ स्थित सरकारी रेसिडेंस में रह रही थीं.

वहीं कांग्रेस के विधायक कुलवीर सिंह जीरा तो डिप्टी सीएम से एक कदम आगे जाकर बयान देते हुए कहा कि जब अरुसा यहां रह रही थीं, तब कैप्टन ने क्यों नहीं कहा कि पंजाब को पाकिस्तान औ आईएसआई से खतरा है. जीरा ने यहां तक कह दिया कि इस बात की जांच बेहद जरुरी है कि टिफिन बम सचमुच आए थें या फिर इसमें कैप्टन अमरिंदर का हाथ था.

कुलबीर सिंह जीरा ने कहा कि कैप्टन को सारी बातें तब याद आईं जब पार्टी के अधिकांश विधायक उनके खिलाफ हो गए थें. जब से रंधावा को होम मिनिस्टर बनाया गया है तब से कोई बम नहीं मिल रहा !

सनसनीखेज बयान देते हुए कुलवीर जीरा ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के खास लोगों के बैंक खातों की जांच की जानी चाहिए ताकी पता चले कि ये पैसे कहां से आएं और कहां गए ? इनमें आईएसआई की भूमिका की भी जांच होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें : वोट मांगने आए तो झाड़ू से मारकर खदेड़ दिजिए…. RJD नेताओं को लठैत कहा कन्हैया ने

 

Leave a Reply