राहुल गांधी ने कहा मैं बताता हूं BJP-RSS के लोग जय सिया राम क्यों नहीं बोलते…..

राहुल गांधी ने कहा मैं बताता हूं BJP-RSS के लोग जय सिया राम क्यों नहीं बोलते. भाजपा और RSS पर राहुल ने साधा निशाना कहा BJP का नारा ‘जय श्री राम’ है न कि ‘जय सिया राम’ और मैं बताता हूं संघ के लोग जय सियाराम क्यों नहीं बोलते……..

भारत जोड़ो यात्रा का मध्यप्रदेश में आज दसवां दिन है. इस दौरान कांग्रेस पार्टी का लगातार बीजेपी और उससे जुड़े संगठनों पर हमला जारी है. अब एक बार फिर बीजेपी और आरएसएस पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि संघ वाले जय श्री राम बोलते हैं, न कि जय सियाराम. वहां कोई ‘सीता’ नहीं है……..

उन्होंने सीता को बाहर रखा है, क्योंकि वे सीता की पूजा नहीं करते हैं आगे राहुल ने जय सियाराम और जय श्री राम में फर्क भी बताया. बता दें कि गांधी की ये टिप्पणी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा, कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खड़गे की रावण वाले बयान पर की गई टिप्पणी के बाद आई है. जिसमें पीएम मोदी ने कहा था कि कांग्रेस कभी भी राम में विश्वास नहीं करती, लेकिन पीएम मोदी की तुलना रावण से जरूर करती है……

मध्य प्रदेश के आगर मालवा में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, कि ‘जय सिया राम’ या ‘जय सीता राम’ का अर्थ यह है कि राम और सीता एक ही हैं. उन्होंने कहा कि जब आरएसएस में कोई महिला ही नहीं है तो वे यह नारा कैसे दे सकते हैं. वहीं राहुल गांधी ने कहा कि गांधीजी ‘हे राम’ कहा करते थे. ये उनका नारा था और इसका मतलब यह है कि भगवान राम केवल एक व्यक्ति नहीं थे, बल्कि प्रेम, भाईचारे, सम्मान और तपस्या के प्रतीक थे…….

राहुल गांधी ने कहा, ‘हे राम’ कहने का मतलब था कि भगवान राम के आदर्श हमारे भीतर हैं और हमें उनका पालन करना है. राहुल ने साफ तौर पर कहा कि दूसरा नारा जय सियाराम है इसका अर्थ है सीता और राम एक ही है. भगवान राम ने सीता के सम्मान के लिए लड़ाई लड़ी थी…….

आगे उन्होंने आरोप लगाया कि जय श्री राम का मतलब है, कि भगवान राम की जय हो, लेकिन भाजपा और आरएसएस के लोग उनकी तरह जीवन नहीं जी रहे और महिलाओं के सम्मान के लिए नहीं लड़ रहे. गांधी ने कहा कि एक पंडित उनके पास आए और उन्हें ये सारी बातें समझायी……..

राहुल गांधी ने कहा, मैं भारत जोड़ो यात्रा के दौरान बहुत कुछ सीख रहा हूं. राहुल ने कहा, तीसरा नारा जय श्री राम है. जो भगवान राम का सम्मान करता है. पंडित जी ने मुझसे यह सवाल उठाने के लिए कहा, कि भाजपा कभी जय सिया राम या हे राम क्यों नहीं बोलती?

वही केंद्र और मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए, राहुल गांधी ने दावा किया, कि किसानों को खाद नहीं मिल रही है और 50 हजार रुपये से एक लाख रुपये तक का कर्ज नहीं चुकाने के लिए किसानों को परेशान भी किया जा रहा है. जबकि बैंकों द्वारा लाल कालीन बिछा कर उद्योगपतियों के बड़े-बड़े कर्ज माफ कर दिए जाते हैं……..

राहुल ने आगे कहा कि आरएसएस के लोग भाजपा में गए और उन्होंने भगवान राम के जीवन के तरीके को कभी नहीं अपनाया. राहुल गांधी ने कहा कि भगवान राम ने कभी किसी के साथ अन्याय नहीं किया. उन्होंने समाज को एकजुट करने का काम किया, उन्होंने किसानों, व्यापारियों और मजदूरों की मदद की. मेरा RSS के दोस्तों से अनुरोध है कि जय श्री राम के साथ जय सिया राम और हे राम का भी जाप करें, सीताजी का अपमान न करें………..

यह भी पढ़ें:- राहुल की भारत जोड़ो यात्रा के जवाब में बीजेपी निकालेगी जन आक्रोश रथ यात्रा……..

Leave a Reply