देहरादून में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान और चीन को दी चेतावनी।

शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी ने देहरादून के परेड ग्राउंड में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। जनसभा को संबोधित करते वक्त पीएम ने चीन और पाकिस्तान पर साधा निशाना। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज के तारीख में पहाड़ी सीमावर्ती क्षेत्रों में भी नई सड़के बन गई है। यानी कि सैकड़ों किलोमीटर तक नई सड़कों का निर्माण हो चुका है। मौसम की परिस्थिति चाहे जैसी भी रही हो इसके बावजूद भी काम हुआ है और अच्छे तरीके से हुआ है और यही वजह है, कि आज के समय में आतंकवादियों को अब मुंह तोड़ जवाब भी दिया जा रहा है। पीएम के इस तरह के स्टेटमेंट से ये साफ दिख रहा था, कि उन्होंने सीधे-सीधे पाकिस्तान और चाइना के ऊपर साधा है निशाना।

उसके बाद प्रधानमंत्री ने अपने विपक्षी पार्टियों पर भी निशाना साधते हुए कहा, कि पहले जो सरकार थी वह केवल भारतीय सेना को निराश ही करने की कसम खा कर बैठी हुई थी। आगे उन्होंने कहा जैसे-जैसे समय बदल रहा है, भारत की राजनीति में काफी बदलाव हो रहा है। जैसे कि कुछ राजनीतिक दल समाज में विकृति पैदा कर किसी खास धर्म,जाति या अपने इलाके की ओर ध्यान दे रहे हैं। ऐसे लोगों को इनमें ही वोट बैंक दिखाई दे रहा है‌। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, कि ऐसे दलों ने एक और तरीका आजकल अपनाया है और जनता को मजबूत नहीं होने देना चाहता है उनका एक ही मकसद है,कि जनता हमेशा केवल मजबूर बनी रहे। उनका पूर्ण रूप से मकसद यही होता है, कि जनता को केवल अपना मोहताज बनाओं ताकि उनका ताज सलामत रहे।

ऐसे लोग जनता जनार्दन को ताकतवर नहीं बनने देना चाहते हैं। ताकि आम जनता को लगेगी सरकारी ही उनके माई-बाप है। अंत में उन्होंने कहा हमारी सरकार जो भी योजना लाती है, उसमें कोई भेदभाव नहीं होता और सभी के लिए एक समान होता है। प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, कि हमने वोट बैंक को कभी राजनीति आधार नहीं बनाया है। केवल सेवा और समर्पण को ही आधार बनाया है। हमारा एक ही मकसद होता है,कि अगर हमारा भारत देश मजबूत होगा तो ना केवल यह देश मजबूत होगा बल्कि हर परिवार भी मजबूत होगा। हमने जिस मार्ग को अपनाया है वह निश्चय ही कठिन है, परंतु देश हित में है और सदैव देश हित में ही होगा। सबका साथ, सबका विकास केवल यही हमारा मार्ग है।

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान के अनुमति के बिना भारत ने किया पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल।

 

Leave a Reply